Home / BJP Press Release / अभी हम संतुष्ट नहीं भाजपा का सर्वश्रेष्ठ तो 2019 में आयेगा: अमित शाह
01-7

अभी हम संतुष्ट नहीं भाजपा का सर्वश्रेष्ठ तो 2019 में आयेगा: अमित शाह

o पं.दीनदयाल जी की जयंती है, संकल्प लेने का दिन है।

o पं. दीनदयाल जी की अगली जयंती से पहले 5 राज्यों के विधानसभा और केंद्र के लोकसभा चुनाव हो जाएंगे।

o पं. दीनदयाल जी के काम को मोदी जी की सरकार आगे ले जा रही है।

o कभी 10 सदस्यों से शुरू हुई पार्टी आज दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी है। 19 राज्यों में पार्टी की सरकारें हैं। कई विधायक और 330 सांसद हैं। प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश के 70 प्रतिशत हिस्से पर भाजपा की सरकारें हैं।

o अगला साल देश का भविष्य तय करने वाला है। भारतीय जनता पार्टी को भी आगे बढ़ाने का संकल्प करें।

o देश के 70 फीसदी हिस्से में भाजपा की सरकारें हैं, लेकिन मैं इससे संतुष्ट नहीं हूं। यह सर्वश्रेष्ठ नहीं है। सर्वश्रेष्ठ 2019 में आएगा।

o कार्यकर्ता संकल्प लें कि 5 राज्यों के विधानसभा चुनाव और लोकसभा चुनाव के पहले मध्यप्रदेश से ऐसी हवा बनाएं कि वह आंधी का रूप लेते हुए देश में भाजपा की सुनामी बन जाए।

o कांग्रेस के नेताओं को सपने बहुत आते हैं। राहुल बाबा कह रहे थे कि मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में हमारी सरकारें बनेंगी। राहुल बाबा, सपने देखना गुनाह नहीं, लेकिन जनता से वोट किस आधार पर मांगोगे? 10 साल में यूपीए सरकार ने 12 लाख करोड़ के घोटाले किए, इस आधार पर मांगोगे। अर्थव्यवस्था का बंटाढार कर दिया, इस आधार पर मांगोगे या मध्यप्रदेश में राजा-महाराजा, उद्योगपति की जो तिकड़ी है, उसके आधार पर वोट मांगोगे।

o देश-विदेश में मोदी-मोदी के नारे सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए नहीं लगते, भारतीय जनता पार्टी के लिए नहीं लगते, वह देश की 125 करोड़ जनता के लिए लगते हैं। मोदी सरकार ने सबसे बड़ा काम देश का गौरव बढ़ाने का किया है।

o जरा देश में हुए चुनावों का इतिहास उठाकर देख लो, जहां पार्टी का एक भी विधायक नहीं था, वहां हमने भाजपा की सरकारें बनाई हैं राहुल बाबा, फिर ये तो मध्यप्रदेश है। मेरे कार्यकर्ताओं में दिन में तारे दिखाने की क्षमता है।

o 12 अक्टूबर को राजमाता जी का जन्मशताब्दी वर्ष शुरू होगा। इस वर्ष में ऐसी जीत हासिल करें कि विरोधियों का दिल दहल जाए।

o हमारी सरकार ने आसाम में एनआरसी लागू करने का काम किया, यह पूरे देश से घुसपैठियों को बाहर करने की शुरुआत है। एनआरसी लागू होते ही कांग्रेस ने कांव-कांव शुरू कर दी, लेकिन एनआरसी की प्रक्रिया रुकेगी नहीं। भाजपा को देश की सुरक्षा की चिंता है, वोट बैंक की नहीं।

Check Also

thumbnail-1

समृद्ध मध्यप्रदेश के लिए डॉ. सहस्त्रबुद्धे ने मांगे सुझाव

भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने पंचायतों के माध्यम से हर वर्ग के सुझावों को …