Home / BJP Press Release / केरल में अत्याचार का अंत होकर रहेगा: शिवराज सिंह
2017-10-10-photo-00000219

केरल में अत्याचार का अंत होकर रहेगा: शिवराज सिंह

विजयन को मुख्यमंत्री बने रहने का अधिकार नहीं म.प्र. के मुख्यमंत्री केरल में जन रक्षा यात्रा में शामिल हुए           

     भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा है कि भाजपा केरल में संघ और भाजपा के कार्यकर्ताओं की चुन चुनकर हत्याएं करने वाले अपराधियों को हर कीमत पर सजा दिलाने की लड़ाई लडेगी। दोषी बच न पायें इसके लिये सारे प्रयास किये जायेंगे। उन्होने कहा कि केरल में अन्याय का एक दिन अंत होगा। श्री चौहान आज केरल के त्रिशूर से जन रक्षा यात्रा में शामिल हुए।

                श्री चौहान ने कहा कि अब यह साफ हो गया है कि केरल के मुख्यमंत्री विजयन के नेतृत्व में यह सब हो रहा है। उन्होने कहा कि श्री विजयन खुद एक हत्या के आरोपी हैं,। ऐसे व्यक्ति को मुख्यमंत्री रहने का अधिकार नहीं है,। उन्होने कहा कि भाजपा अन्याय के खिलाफ तब तक लडेगी जब तक आतंक समाप्त नहीं हो जाता।

                इस अवसर पर श्री शिवराजसिंह चौहान ने केरल में माक्र्सवादी हिंसा के शिकार हुए आरएसएस कार्यकर्ताओ को श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर उन्होने कहा कि कार्यकर्ताओं की शहादत बेकार नहीं जायेगी और भारतीय जनता पार्टी वामपंथी हिंसा के शिकार हुए कार्यकर्ताओं के परिवार की भी चिंता करेगी। श्री चौहान ने केरल में कम्यूनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी की ज्यादतियों की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा कि वैचारिक असहमति हो सकती है लेकिन इस असहमति के आधार पर हत्याओं जैसे जघन्य कृत्य किया जाना सर्वथा निंदनीय कार्य है।

                श्री चौहान इस अवसर पर श्रीमती विमला देवी के निवास पर श्रद्धांजलि देने गए। जिन्हें कम्युनिष्ट पार्टी माक्र्सवादी के गुंडों ने जिन्दा जला दिया था। श्री चैहान ने विमला देवी के परिजनों को हर संभव मदद देने का आश्वासन दिया।

                श्री चौहान ने श्रीमती विमला देवी और बीजेपी के अन्य कार्यकर्ताओं की हत्याओं पर शोक व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि यह काम सीपीएम के संरक्षण में हो रहा है। इसका निरंतन विरोध किया जायेगा।

Check Also

nandu-bhaiya

विदेशी निवेश से रोजगार के द्वार खुलेंगेः चौहान

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री नंदकुमारसिंह चौहान ने विदेशी निवेश …