Home / BJP Press Release / तपस्या और परिश्रम की परंपरा को शिवराज जी ने आगे बढ़ाया : सुश्री उमा भारती
thumbnail-6

तपस्या और परिश्रम की परंपरा को शिवराज जी ने आगे बढ़ाया : सुश्री उमा भारती

कांग्रेस के नेता गरीबों के लिए कभी सड़कों पर नहीं उतरे
केन्द्रीय मंत्री उमा भारती ने प्रत्याशियों के समर्थन की जनसभाएं

भोपाल। 2003 के पहले मध्यप्रदेश सड़क, पानी, बिजली सहित हर सूचकांक में नीचे दिखायी देता था। मैंने बड़ी तपस्या से 2003 में प्रदेश में सरकार बनायी। मेरी तपस्या से बनी सरकार को शिवराज जी ने तपस्या से ही आगे चलाया है और उसी का परिणाम है कि मध्यप्रदेश में भारतीय जनता पार्टी लगातार सरकार में रही है। यह बात केन्द्रीय मंत्री सुश्री उमा भारती ने रविवार को लहार में पार्टी प्रत्याशी श्री रसाल सिंह के समर्थन में आयोजित जनसभा में कही।

सुश्री उमा भारती ने रविवार को लहार, दतिया, निवाड़ी, जतारा पहुंचकर पार्टी प्रत्याशियों के समर्थन में चुनावी जनसभाओं में भाग लिया। लहार में सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि 2003 में मध्यप्रदेश के विकास के मुद्दे पर हमने सरकार बनायी। 2003 के समय कांग्रेस के शासनकाल में सड़कें खराब थी। जनता को बिजली नहीं मिलती थी। लॉ एंड आर्डर खराब था। प्रदेश में रोजगार नहीं था। हमने 2003 के चुनाव में विकास का एजेंडा लिया, गरीबों को रोटी और रोजगार, महिलाओं के सम्मान का एजेंडा लिया और मुझे यह कहते हुए खुशी होती है कि इन 15 वर्षों में इन सभी बातों को पूरा करने का काम किया है। सुश्री भारती ने कहा कि महिलाओं पर कोई गलत नजर डालता है तो उसको कठोरतम दंड देना चाहिए और इस दिशा में पूरी दुनिया में मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार ने बलात्कारी को फांसी की सजा सुनाने का प्रावधान कर एक उदाहरण प्रस्तुत किया है।

कांग्रेस नेता बताए कि गरीबों के लिए कितनी लाठियां खाई

सुश्री उमा भारती ने कहा कि लोकतंत्र में सत्तापक्ष की जिम्मेदारी के साथ विपक्ष की भी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी होती है, लेकिन यह दुर्भाग्य है कि देश में कांग्रेस विपक्ष की भूमिका निभाने में असफल साबित हुई है। विपक्ष अपनी जिम्मेदारी निभाने के बजाए गालियां देना, झूठी तोहमतें लगाना और अपमान करना सीखा है। यही हाल मध्यप्रदेश के कांग्रेस नेताओं का है। कांग्रेस नेता गरीब जनता के लिए कभी सड़कों पर नहीं उतरे, जबकि सरकार में आने से पहले हमनें लगातार संघर्ष किया, पुलिस की लाठियां खाई और न जाने कितने केस भाजपा कार्यकर्ताओं पर लगे। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने लगातार संघर्ष किया तब जाकर 2003 में सरकार बनी। यह सरकार बलिदानों की श्रृंखला पर बनी सरकार है।

राम हमारे लिए चुनाव नहीं, जीवन मरण का मुद्दा नहीं

लहार की जनसभा में उपस्थित जनता को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि विपक्ष आरोप लगाता है कि भारतीय जनता पार्टी के लिए राम चुनावी मुद्दा है लेकिन मैं उन्हें मंच से जवाब देती हूं कि तिरंगा, गंगा और राम हमारे लिए चुनाव का मुद्दा नहीं है। हम सड़क, पानी और बिजली के मुद्दे पर चुनाव लडते हैं। राम हमारे लिए जीवन मरण का मुद्दा है। राम हमारे लिए आन-बान-शान और देश की पहचान है। उन्होंने सभा में अपील करते हुए कहा कि पार्टी के प्रत्याशी श्री रसाल सिंह, सेवा भावी और योग्य प्रत्याशी है। उनमें जनता की सेवा करने की ललक है। उनकी जीत से इस क्षेत्र में विकास की गंगा बहेगी। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता दृढ़ निश्चय के साथ मतदाताओं तक पहुंचे और 28 नवंबर को कमल का बटन दबाने की अपील करें।

इस अवसर पर प्रदेश के पूर्व मंत्री श्री राजेंद्रप्रकाश सिंह चौहान, पूर्व विधायक श्री मथुराप्रसाद महंत, श्री कोकसिंह नरवरिया, श्री मायाराम शर्मा, श्री मलखान सिंह दद्दा, श्री नन्दराम बघेल, श्री निर्पेन्द्र सिंह जूदेव, श्री रामकुमार महते सहित बडी संख्या में जनसमुदाय उपस्थित था।

Check Also

%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%82%e0%a4%97%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a5%87%e0%a4%b8-%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%b0%e0%a5%8d%e0%a4%af%e0%a4%95%e0%a4%b0%e0%a5%8d%e0%a4%a4%e0%a4%be-%e0%a4%ad%e0%a4%be%e0%a4%9c%e0%a4%aa

सारंगपुर और विदिशा विधानसभा के कांग्रेस कार्यकर्ता भाजपा में शामिल

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं प्रदेश प्रभारी डॉ. विनय सहस्त्रबुद्धे की मौजूदगी …