Home / BJP Press Release / सहकारी भावना भाजपा का संस्कार है: सिंह
7

सहकारी भावना भाजपा का संस्कार है: सिंह

(सहकारिता प्रकोष्ठ की प्रदेश कार्यसमिति बैठक संपन्न)

आसन्न विधानसभा चुनाव की दृष्टि से सहकारिता प्रकोष्ठ योजनाबद्ध तरीके से

जनता तक पहुंचे, उन्हें खुशहाली का अहसास कराए: सुहास भगत

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री राकेश सिंह ने कहा कि सहकारी भावना भारतीय संस्कृति का मूल मंत्र रहा है। सहकारी भावना भारतीय जनता पार्टी का संस्कार और आभूषण है। देश और प्रदेश में सहकारी आंदोलन में बड़ी-बड़ी प्रतिभाओं को उच्च स्थान पर पहुंचाया है। श्री शरद पवार, श्री नितिन गडकरी इसके उदाहरण हैं। भारतीय जनता पार्टी ने मध्यप्रदेश में सहकारिता आंदोलन को समाज के अंतिम व्यक्ति के जीवन और आर्थिक स्तर का उन्नयन करने का साधन बनाया है। उन्होंने कहा कि सहकारी आंदोलन में काम करने वाले हमारे कार्यकर्ताओं की स्वीकार्यता समाज में बढ़ी है। हमें उस स्वीकार्यता का लाभ पार्टी के पक्ष में सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता की क्षमता का लाभ पार्टी और संगठन को मिलना चाहिए। मिशन-2018 और 2019 के प्रति सचेत करते हुए उन्होंने आग्रह किया कि वे पूर्णप्रण से इसकी सफलता के लिए जुट जाएं। मिशन की सफलता में सहकारिता प्रकोष्ठ की भूमिका निर्णायक होगी, क्योंकि सहकारिता के क्षेत्र में समाज और जीवन की बेहतरी समाहित है। सहकारी क्षेत्र से आम जनता की खुशहाली की राह आसान हुई है। उन्होंने कहा कि 14 जुलाई से आरंभ हो रही मुख्यमंत्री की जनआशीर्वाद यात्रा हमारे लिए एक अवसर है। हम हितग्राही जनता के साथ यात्रा को सफल बनाएं। इससे हमारा ‘‘अबकी बार 200 पार’’ अबकी बार चैथी बार सरकार का लक्ष्य हासिल होगा और प्रतिबद्धता पूर्ण कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि हमारे पास चुनौतियां कम और अवसर अधिक हैं। हमारी होशियारी इसी में है कि हम अवसर का लाभ उठाकर चुनौतियों का डटकर सामना करें और राजनीतिक जीवन में सफलता सुनिश्चित करें। सहकारी क्षेत्र के कार्यकर्ता अपनी भूमिका पार्टी के लिए समर्थन जुटाकर परिभाषित करें।

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश संगठन महामंत्री श्री सुहास भगत ने कहा कि विगत 14 वर्षों में मध्यप्रदेश लोक कल्याणकारी राज्य की स्थापना की दिशा में अग्रसर हुआ है। हर क्षेत्र में उल्लेखनीय प्रगति हुई है। सहकारिता के माध्यम से हमने पं. दीनदयाल उपाध्याय के एकात्म मानव दर्शन को धरातल पर उतारने के अनुष्ठान को सफल बनाकर समाज के अंतिम व्यक्ति के जीवन में सुखद परिवर्तन लाने का प्रयास किया है। हमें 14 वर्षों की उपलब्धियों से लोक जीवन में आये परिवर्तन का एहसास जन-जन को कराना है। इससे हमें जनता का समर्थन और आशीर्वाद मिलेगा और हम मिशन-2018 को सफल बनाने में समर्थ होंगे। उन्होंने कहा कि प्रत्येक जिले में बैंक अध्यक्ष सहकारिता प्रकोष्ठ और सहकारी क्षेत्र की समितियों के प्रतिनिधि एक टीम के रूप में संगठित हों और हितग्राही के पास पहुंचकर उसे सुखद जीवन का एहसास करायें। ऐसा होने पर पार्टी को उसका समर्थन हासिल होगा। इससे पार्टी को मिशन-2018 को सफल बनाने में सहायता मिलेगी। प्रकोष्ठ की बैठक का आरंभ करते हुए प्रदेश के सहकारिता मंत्री श्री विश्वास सारंग, प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक श्री नेमीचंद जैन, अपैक्स बैंक के प्रशासक श्री रमाकांत भार्गव, प्रदेश महामंत्री श्री मनोहर ऊंटवाल, सांसद श्री कैलाश सोनी, प्रकोष्ठ प्रभारी श्री सत्येंद्र भूषण सिंह ने दीप प्रज्जवलित कर महापुरूषों के चित्रों पर पुष्पांजलि अर्पित की।

प्रदेश के सहकारिता राज्यमंत्री श्री विश्वास सारंग ने कहा कि प्रदेश में सहकारिता के आधार स्तंभ पेक्स को सशक्त बनाने का कार्य किया जा रहा है। इन्हें मल्टी यूटिलिटी शाप में बदला जायेगा। शासन ने प्रस्ताव किया है कि उज्जवला योजना को गांव-गांव तक सफल बनाने के लिए इसका प्रभार पैक्स को दिया जाए, जिससे ग्रामों में उज्जवला योजना का पूरा लाभ ग्रामवासियों को मिल सकेगा। साथ ही गैस की पूर्ति आसान हो जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने मेक-इन-इंडिया मिशन को सफल बनाने के लिए स्किल इंडिया का लक्ष्य रखा है। मध्यप्रदेश सहकारिता विभाग ने कौशल विकास के क्षेत्र में देश में अग्रणी भूमिका का निर्वाह किया है। 4 हजार युवकों को विभिन्न हुनरों में प्रशिक्षित कर स्वरोजगार की दिशा प्रशस्त की जा चुकी है। हमारा लक्ष्य 1 लाख लोगों को कौशल में प्रशिक्षित करना है। उन्होंने कहा कि सहकारिता को अंत्योदय का साधन बनाकर हमने समाज के अंतिम व्यक्ति की खुशहाली का रास्ता आसान करने का सफल प्रयास किया है। प्रदेश के लोकप्रिय मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान 14 जुलाई से प्रदेश व्यापी जनआशीर्वाद यात्रा पर निकल रहे हैं। प्रकोष्ठ का दायित्व होगा कि वह इस अवसर पर हितग्राहिओं के साथ बड़ी संख्या में जनआशीर्वाद यात्रा में सम्मिलित होकर जनआशीर्वाद यात्रा को सफल बनाएं।

श्री नेमीचंद जैन ने प्रदेश अध्यक्ष श्री राकेश सिंह एवं अतिथियों का स्वागत करते हुए बताया कि जुलाई माह में प्रकोष्ठ की जिला बैठकें आयोजित की जाएंगी और अगस्त माह में सभी जिलों में सहकारिता के सम्मेलन आयोजित किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि 14 जुलाई को उज्जैन से प्रारंभ होने वाली प्रदेश व्यापी जनआशीर्वाद यात्रा में सभी भाग लेकर पार्टी के मिशन-2018 की सफलता के लिए आशीर्वाद लेंगे। जन आशीर्वाद यात्रा की सफलता के लिए पूर्ण मनोयोग से हमें जुटना है।

उन्होंने कहा कि हम भाग्यशाली हैं कि हमें प्रदेश में श्री शिवराज सिंह चैहान और देश में श्री नरेंद्र मोदी का क्रांतिकारी नेतृत्व प्राप्त हुआ है, जिससे हम सहकारिता को जनसेवा के माध्यम के रूप में प्रदेश व्यापी बनाने में सफल हुए हैं। कांग्रेस ने इसे अपने राजनीतिक लाभ का साधना बना रखा था। भारतीय जनता पार्टी ने सहकारिता के माध्यम से जहा प्रदेश में लोकतांत्रिक आर्थिक समाजवाद लाने का प्रयास किया है। वहीं रोजगार के अवसर बढ़ाएं हैं और कमजोर तबके तक साख और पंूजी का प्रवाह बढ़ाया है।

Check Also

%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%82%e0%a4%97%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a5%87%e0%a4%b8-%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%b0%e0%a5%8d%e0%a4%af%e0%a4%95%e0%a4%b0%e0%a5%8d%e0%a4%a4%e0%a4%be-%e0%a4%ad%e0%a4%be%e0%a4%9c%e0%a4%aa

सारंगपुर और विदिशा विधानसभा के कांग्रेस कार्यकर्ता भाजपा में शामिल

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं प्रदेश प्रभारी डॉ. विनय सहस्त्रबुद्धे की मौजूदगी …